Vastu Tips in Hindi - वास्तु टिप्स इन हिंदी

क्या आपको पता ही है कि हमारे पुराने जमाने से ही हम लोग अपने घर, ऑफिस वास्तु के हिसाब से ही बनाते थे जैसा वास्तु शास्त्र में बताया जाता था हम लोग वैसा वैसा करते थे, ऐसा माना जाता है कि वास्तु के हिसाब से अपने घर, व्यवसाय और ऑफिस को बनाने से हमें बहुत तरह के फायदे होते हैं वह वास्तु सुमारे दोषों  का निवारण करता है यह अंधविश्वास पर आधारित बातें नहीं बताता, यह हमे कौन सा कमरा किस दिशा में बनाना है कौन सी दिशा हमारे लिए कितनी उपयोगी कौन सा पौधा किस घर में लगाना चाहिए यह सब हमें वास्तु शास्त्र के अनुसार बताया जाता है.

Vastu Tips in Hindi

क्या क्या आप कम करे वास्तु के हिसाब से

1. आज हम आपको कुछ ऐसे ही बातें बतायेंगे आज भी हमारे देश में बहुत से लोग वास्तु शास्त्र के अनुसार ही अपने घर को बनाते हैं जो क्योंकि लिए बहुत ज्यादा ही लाभकारी सिद्ध होता है.

2. वास्तु शास्त्र के कुछ टिप्स सीढ़ी के नीचे कभी भी हमें पूजा घर नहीं बनाना चाहिए पूजा घर से सटा हुआ कभी भी शौचालय नहीं होना चाहिए .

पूजा के लिए पूजा घर में क्या क्या और कहा रखे

1. हमेशा ही पूजा घर में प्रतिमा स्थापित नहीं करनी चाहिए जिससे कि हमारे घर में प्राण प्रतिष्ठा मूर्ति का ध्यान उस तरह से नहीं रखा जा सकता जैसे कि रखना चाहिए अतः छोटी मूर्ति और चित्र में पूजा घर में लगाने चाहिए .

2. हमेशा उत्तर पूर्व में किसी का भी बैडरूम नहीं होना चाहिए हमेशा रसोई के लिए हमारे लिए दक्षिण पूर्व दिशा का होना बहुत लाभदायक होता है.

3. हमेशा हमारी जितनी भी सीढ़ियां हैं उनकी संख्या विषम होनी चाहिए 19 13 17 हमेशा कभी भी सीढ़ी के नीचे कोई कबाड़ नहीं रखना चाहिए.

4. सीढ़ी के ना नीचे कभी भी बाथरुम रखना चाहिए, अपने घर में कभी भी बंद घड़ी नहीं रखनी चाहिए, अपने घर में कभी भी कबाड़ को नहीं रखना चाहिए.

घर के लिए क्या क्या करे वास्तु के अनुसार

1. अपने घर की जितने भी कप्बोट आएगा उनको कभी खुला नहीं छोड़ना चाहिए उन में हमेशा दरवाजे के सीसे लगा देनी चाहिए.

2. कमरों के दरवाजे व खिड़कियां हमेशा उत्तर या पूर्व दिशा में ही रखनी चाहिए कभी भी जंगली जानवरों की फोटो घर में ना रखें.

3. हमें कभी भी नटराज भगवान की भी मूर्ति या तस्वीर को अपने घर में नहीं रखना चाहिए क्योंकि इसमें शिव जी का विकराल रूप है.

4. हमें कभी भी अपने घर में फटे हुए पोस्टर या कोई भी तस्वीर तथा कोई भी भगवान की खंडित मूर्ति को अपने घर में तो बिल्कुल ही नहीं रखना चाहिए.

5. कभी भी अपने घर में बेडरुम के साथ रसोई घर तथा पूजा घर नहीं होना चाहिए तीनों कमरे हमेशा अलग अलग होने चाहिए.

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here