Boondi ke Ladoo Recipe in Hindi – मोतीचूर के लड्डू




Boondi ke Ladoo Recipe in Hindi - मोतीचूर के लड्डू

बूंदी के लड्डू बहुत ही स्वादिष्ट और लाजवाब मिठाई है। इसे आप जब चाहे आसानी से बनाकर सबको खिला सकते है। बूंदी के लड्डू एक ऐसी मिठाई है जो शायद ही कोई हो जिसको पसंद ना आये। पूजा या किसी पर्व पर तो यह जरूर बनाई जाती है। यह मिठाई  लोगो को पसंद होती है।

स्वाद- बूंदी के लड्डू का स्वाद मीठा और खुशबुदार होता है। बहुत से लोग बूंदी के लड्डू को दही में डालकर भी खाना पसंद करते है। इसे आप किसी को डब्बे में पैक करके गिफ्ट भी कर सकते है।

प्रसिद्ध- बूंदी के लड्डू सभी जगह बहुत प्रसिद्ध है। पूजा या मंदिर में यह ज्यादातर सभी जगह प्रसाद के रूप में मिलता है और सभी लोग स्वाद से इसका सेवन करते है।

विशेषता- बूंदी के लड्डू की सबसे खास विशेषता यह है की एक तो आप इसे जब चाहे आसानी से बना सकते है और अपनी मर्ज़ी के अनुसार इसका सेवन कर सकते है। दूसरा इसका स्वाद सभी को पसंद होता है तो इसे बनाने में या किसी के सामने रखने में ज्यादा सोचने की जरुरत नहीं पड़ती।

बूंदी के लड्डू का मीठा और लजीज स्वाद सभी लोगो को पसंद होता है। आपके घर कोई मेहमान आजाए और अपने आज ही बूंदी के लड्डू बनाकर रखे है तो आप उनके सामने झट से रख सकते है वो बड़े स्वाद से इसका सेवन करेंगे। वैसे तो बूंदी के लड्डू बाजार में सभी जगह मिलते है लेकिन आप चाहे तो इसे आसानी से घर पर शुद्ध और साफ तरीके से बना सकते है। इसे बनाने में ज्यादा समय नहीं लगता। इसे बनाने की सभी सामग्री आसानी से मिल जाती है। आज हम आपके लिए लाये है एक आसान विधि जिसकी मदद से आप स्वादिष्ट बूंदी के लड्डू बहुत ही कम समय में बना सकते है। नीचे दी गई विधि को फॉलो करे और स्वादिष्ट लजीज बूंदी के लड्डू बनाकर सबको खिलाए।

बूंदी लड्डू बनने का समय

बूंदी के लड्डू को बनाने में 40 मिनट का समय लगता है। इसे बनाने की तैयारी करने में 20 मिनट का समय लगता है।

सदस्यो के अनुसार

दी गई विधि की मात्रा के अनुसार यह बूंदी के लड्डू 4 सदस्यों के लिए काफी है।

महत्वपूर्ण परामर्श

  1. अगर आप चाहते है की आपके बूंदी के लड्डू मुलायम और स्वादिष्ट बने तो ध्यान रखे की बूंदी के लिए तैयार किया गया घोल सख्त ना हो, जितना अच्छे से आप घोल को फेटेंगे उतनी ही मुलायम और बारीक़ आपकी बूंदी बनेगी।
  2. बूंदी के लड्डू को अगर आप थोड़ा रंग बिरंगा बनाना चाहते है तो आप अपने लड्डू में डाली गई बूंदी का रंग बदल सकते है। इसके लिए आपको बूंदी बनाने के बाद उसमे थोड़ा सा खाने वाला रंग जैसे की लाल या हरा रंग डालना होगा इससे आपके बूंदी के लड्डू दिखने में सबसे अलग और आकर्षित दिखाई देंगे।
  3. कुछ लोगो को मोटी बूंदी के लड्डू खाना भी पसंद होता है उसके लिए आप बूंदी बनाने के लिए जिस कलछी का इस्तेमाल करेंगे ध्यान रखे की उसके छेद थोड़े बड़े हो। छलनी के छेद के हिसाब से ही आपके लड्डू की बूंदी तैयार होगी।
  4. लड्डू के लिए बूंदी बनाने के बाद अगर आपका तेल या घी बच जाता है तो आपको उसे फेकने की जरुरत नहीं है आप उस घी या तेल को बचा कर रख सकते है और जरुरत पड़ने पर पराठे, पूरी या किसी और चीज़ को बनाते समय इस्तेमाल कर सकते है।

बूंदी के लड्डू का इस्तेमाल-

  1. बूंदी के लड्डू या यू कहे की मोतीचूर के लड्डू हमारे देश के एक प्रसिद्ध और पारम्परिक मिठाई है, इसे केवल भारत के लोग ही नहीं विदेश से आये हुए लोग भी बहुत पसंद करते है।
  2. कोई भी त्यौहार हो या कोई ख़ुशी का मौका सबसे ज्यादा जो मिठाई पसंद की जाती है वो है बूंदी के लड्डू। इसे आप कुछ ही समय में थोड़ी मेहनत के साथ आसानी से तैयार कर सकते है।
  3. गणेश उत्सव पर इस मिठाई को सबसे जायदा पसंद किया जाता है इसके अलावा प्रत्येक मंगलवार और शनिवार को भी हनुमान जी को केवल बूंदी के लड्डू का ही भोग लगाया जाता है।
  4. मोतीचूर और बूंदी के लड्डू का असली स्वाद तभी आता है जब वो देसी घी में तैयार किये गए हो, वैसे तो बहुत से लोग इसे रिफाइंड या तेल में भी तैयार करते है लेकिन देसी घी के लड्डू सबसे ज्यादा लोकप्रिय है।

बूंदी के लड्डू की विशेषता

  1. बूंदी के लड्डू की सबसे खास विशेषता यह है की एक तो ये सबसे कम समय में तैयार हो जाते है दूसरा इन्हे बनाने में जो सामग्री का इस्तेमाल किया जाता है वो बहुत ही सस्ती आती है इसीलिए ये समय और पैसे दोनों की ही बचत करते है।
  2. जैसे की अभी त्योहारों का मौसम शुरू होने वाला है तो ज्यादातर सभी लोग घर की मिठाई ही खाना पसंद करते है और उनमें सबसे ज्यादा बनने वाली मिठाई है बूंदी यानि मोतीचूर के लड्डू।
  3. गणेश भगवान को सबसे पहले किसी भी कार्य में पूजा जाता है और यह हम सभी जानते है की उन्हें बूंदी के लड्डू कितने पसंद है एक यह भी वजह है की बूंदी के लड्डू को इतना ज्यादा पसंद किया जाता है।  
  4. बूंदी के लड्डू को मोती चूर का लड्डू भी इसीलिए कहा जाता है क्योंकि ये बहुत ही मुलायम होते है, कुछ अगर आप इन लड्डू को दी गई विधि के अनुसार बनाएंगे तो आपके लड्डू एकदम मुलायम और स्वादिष्ट बनेंगे।
Boondi ke Ladoo Recipe in Hindi - मोतीचूर के लड्डू
5 from 1 vote
Print

बूंदी के लड्डू (Boondi ke Ladoo) बनाने की विधि

बूंदी के स्वादिष्ट और लाजवाब देसी घी के लड्डू सभी को बहुत पसंद होते है। आप इसे घर पर आसानी से बनाकर किसी के भी सामने सर्वे करे वो झट से इन्हे खत्म कर देंगे और आपकी तारीफ भी करेंगे।
Course Desserts
Cuisine Indian
Prep Time 20 minutes
Cook Time 40 minutes
Total Time 1 hour
Servings 4 people

Ingredients for बूंदी के लड्डू (Boondi ke Ladoo)

  • 1 कप बेसन
  • 1 कप चीनी
  • 1 कप पानी
  • 5 छोटी इलाइची
  • 1 टी स्पून पिस्ते
  • 1 टी स्पून तेल
  • 4 टी स्पून देसी घी

How to make बूंदी के लड्डू (Boondi ke Ladoo)

  1. बूंदी के लड्डू बनाने के लिए सबसे पहले बेसन को ले और छलनी की मदद से बेसन को छान ले। अब बेसन को एक बाउल में ले उसमे थोड़ा सा पानी और तेल डालकर एक घोल तैयार कर ले। ध्यान रखे की घोल में गाठे और दाने ना रह जाए। घोल को अच्छे से फेट कर रख ले।
  2. अब चाशनी बनाने के लिए एक बर्तन में चीनी और पानी को डालकर गैस पर पकने के लिए रख दे। कुछ देर बाद जब चीनी पानी में घुलने लगे तो हाथ में लेकर चेक कर ले की चाशनी में तार बन रहा है या नहीं अगर बन रहा है तो गैस बंद कर दे आपकी चाशनी बनकर तैयार है।
  3. अब एक कढ़ाई ले उसमे घी डालकर गैस पर गरम करने के लिए रख दे। अब एक कलछी को कढ़ाई के ऊपर रखे और बने हुए बेसन के घोल को कलछी के छेद में से कढ़ाई में डालते रहे। जब कुछ बूंदी कढ़ाई में डल जाए तो उन्हें हल्का ब्राउन होने तक तल ले और फिर प्लेट में निकाल ले। सभी बूंदी इसी तरह तैयार कर ले।
  4. बूंदी को ठंडा होने पर उसे चाशनी में डाल दे साथ ही पिस्ते के कटे हुए टुकड़े भी डाल दे। कुछ देर के लिए इन्हे कढ़ाई में ही छोड़ दे। अब थोड़ा सा बूंदी का मिश्रण हाथ में ले और दोनों हथेली की मदद से गोल आकार में लड्डू तैयार कर ले।
  5. सारी बूंदी से इसी तरह लड्डू बनाते रहे और प्लेट में रख ले। कुछ ही देर में आपके बूंदी के लड्डू बनकर तैयार है इन्हे किसी डब्बे में भरकर रख ले और अपनी मर्ज़ी के अनुसार इनके स्वाद का मज़ा ले।




Laddu Recipe in Hindi

1 Comment

Leave a Reply